Godda News:-अनुकंपा समिति का महत्वपूर्ण कदम मृत कर्मचारियों के आश्रितों को भी मिलेगी नौकरी

Godda News:-अनुकंपा समिति का महत्वपूर्ण कदम मृत कर्मचारियों के आश्रितों को भी मिलेगी नौकरी

झारखंड के गोड्डा में जिला अनुकंपा समिति ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए विभिन्न विभागों में मृत कर्मचारियों के आश्रितों को रोजगार के अवसर प्रदान करने की दिशा में एक सराहनीय कदम उठाया है। मंगलवार को जिला मजिस्ट्रेट जिशान कमर की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान लिए गए निर्णय में अनुकंपा के आधार पर तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदों पर नियुक्ति शामिल है।

त्वरित कार्रवाई और विस्तृत समीक्षा

बैठक के दौरान, जिसमें पुलिस अधीक्षक नाथू सिंह मीना और उप विकास आयुक्त स्मिता टोप्पो जैसे उच्च पदस्थ अधिकारी शामिल थे, संबंधित विभागीय अधिकारियों को तत्काल कार्रवाई का निर्देश दिया गया। विभिन्न विभागों में 13 मृत कर्मचारियों के आश्रितों को अब अनुकंपा नियुक्ति को मंजूरी मिल गई है।

समिति ने नियमों का पालन करते हुए उन सरकारी कर्मचारियों के आश्रितों के मामलों की गहन जांच की, जिनकी सेवा के दौरान मृत्यु हो गई थी। सर्वसम्मति से, समिति ने 13 आश्रितों के लिए अनुकंपा नियुक्ति की सिफारिश की, जिससे विभिन्न विभागों में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदों पर उनकी भर्ती का मार्ग प्रशस्त हो गया।

यह भी पढ़े:-Abua Awas :-अबुआ आवास योजना झारखंड में 91,000 परिवारों के लिए ख़ुशख़बरी

जिलाधिकारी जिशान कमर ने त्वरित कार्रवाई की आवश्यकता पर बल देते हुए संबंधित विभागों से सरकारी दिशानिर्देशों के अनुसार अनुकंपा नियुक्ति से संबंधित मामलों को शीघ्रता से निपटाने का आग्रह किया। जिला प्रशासन का लक्ष्य स्थापित मानदंडों का पालन सुनिश्चित करते हुए इन नियुक्तियों का शीघ्र निष्पादन करना है।

नियुक्ति प्रक्रिया में अगले चरण

जिलाधिकारी जिशान कमर ने उपसमाहर्ता रितेश जयसवाल को विभिन्न विभागों से संबंधित अनुकंपा संबंधी मामलों की विस्तृत रिपोर्ट संकलित कर नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया. इसके साथ ही, सभी मामलों को पारदर्शी और गहन मूल्यांकन प्रदान करते हुए समिति की बैठक के दौरान समीक्षा के लिए प्रस्तुत किया गया।

बैठक के दौरान चर्चा किए गए मामलों को आगे की जांच और मूल्यांकन के लिए अनुकंपा समिति के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। अनुमण्डल पदाधिकारी बैद्यनाथ उराँव, महगामा एसडीओ राजीव कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी मिथिला टुडू और जिला जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार सहित स्थानीय अधिकारियों की उपस्थिति ने प्रत्येक मामले की व्यापक और निष्पक्ष जांच सुनिश्चित की।

संक्षेप में, झारखंड में गोड्डा जिला प्रशासन का यह अभूतपूर्व निर्णय न केवल मृत कर्मचारियों के आश्रितों को रोजगार के अवसर प्रदान करता है, बल्कि सरकारी दिशानिर्देशों को लागू करने के प्रति दयालु और त्वरित दृष्टिकोण का उदाहरण भी देता है। यह कदम चुनौतीपूर्ण समय के दौरान परिवारों का समर्थन करने की प्रतिबद्धता के अनुरूप है और पारदर्शी और निष्पक्ष शासन के लिए जिले के समर्पण को रेखांकित करता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1प्रश्न: मैं झारखंड में अनुकंपा नियुक्ति के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

उत्तर: झारखंड में अनुकंपा नियुक्ति के लिए आवेदन करने के लिए, आपको जिला प्रशासन द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों का पालन करना होगा। आवश्यक दस्तावेज़ संकलित करें और अपना आवेदन संबंधित विभाग को जमा करें।

2प्रश्न: गोड्डा जिले में अनुकंपा नियुक्ति के लिए पात्रता मानदंड क्या हैं?

उत्तर: अनुकंपा नियुक्ति के लिए पात्रता में गोड्डा जिले के मृत सरकारी कर्मचारी का आश्रित होना शामिल है। सरकारी नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए समिति प्रत्येक मामले की गहन समीक्षा करती है।

3प्रश्न: झारखंड में अनुकंपा नौकरी के लिए नियुक्ति प्रक्रिया में कितना समय लगता है?

उत्तर: झारखंड में अनुकंपा नौकरियों के लिए नियुक्ति प्रक्रिया का लक्ष्य तेजी से निष्पादन करना है। एक बार आवेदन जमा हो जाने और उसकी समीक्षा हो जाने के बाद, जिला प्रशासन समय पर प्रक्रिया सुनिश्चित करते हुए, सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए लगन से काम करता है।

4प्रश्न: क्या मृत कर्मचारियों के आश्रित अनुकंपा नियुक्तियों के माध्यम से विशिष्ट पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं?उत्तर: हाँ, मृत कर्मचारियों के आश्रित अनुकंपा नियुक्ति के माध्यम से तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। गोड्डा जिले में हालिया निर्णय से विभिन्न विभागों में उनकी योग्यता और उपलब्ध पदों के आधार पर आश्रितों की भर्ती की अनुमति मिलती है।

5प्रश्न: क्या अनुकंपा नियुक्ति प्रक्रिया के दौरान परिवारों को कोई वित्तीय सहायता या परामर्श प्रदान किया जाता है?उत्तर: जबकि प्राथमिक ध्यान रोजगार के अवसरों पर है, जिला प्रशासन अनुकंपा नियुक्ति प्रक्रिया के दौरान परिवारों को सहायता सेवाएँ या परामर्श प्रदान कर सकता है। यह चुनौतीपूर्ण समय के दौरान परिवारों की सहायता के लिए अपनाए गए समग्र दृष्टिकोण को दर्शाता है।

1 thought on “Godda News:-अनुकंपा समिति का महत्वपूर्ण कदम मृत कर्मचारियों के आश्रितों को भी मिलेगी नौकरी”

Leave a Reply