Israel-Hamas war :-800 विदेशी नागरिकों ने गाजा छोड़ी, विश्व समुदाय के मगरमच्छ के आंशु

Israel-Hamas war :-800 विदेशी नागरिकों ने गाजा छोड़ी, विश्व समुदाय के मगरमच्छ के आंशु

Table of Contents

इस्राइल-हमास संघर्ष: 

इस्राइल-हमास संघर्ष की ताजगी के अनुसार पश्चिम एशिया में घटित घटनाओं का अपडेट देखें।

Israel-Hamas war :-800 विदेशी नागरिकों ने गाजा छोड़ी, विश्व समुदाय के मगरमच्छ के आंशु

भारत का बड़ा कदम: संयुक्त राष्ट्र संमेलन में भारत का वोट

Israel-Hamas war :-800 विदेशी नागरिकों ने गाजा छोड़ी, विश्व समुदाय के मगरमच्छ के आंशु

भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में एक प्रस्ताव के पक्ष में वोट किया है, जिसमें इसराइल के अधिकृत पैलेस्टिनियन क्षेत्रों में बसने की गतिविधियों की निंदा की गई है। इसके पहले, भारत ने एक अलग प्रस्ताव के पक्ष में वोट नहीं किया था, जिसमें इसराइल-हमास संघर्ष में तत्काल मानवता के लिए एक त्वरित यातायात रोकने की मांग की गई थी।

अमेरिका की भूमिका: ब्लिंकन के बयान के बाद

अमेरिका ने इस निर्णय के खिलाफ वोट किया, जिसमें 14 देश विरोध करते हैं। यह आता है ब्लिंकन के बयान के बाद, जिसमें उन्होंने इस्राइल के गाजा पर हमलों के बीच मौत की सूचना के लिए ‘बहुत अधिक पालेस्टाइनियों की मौत’ की गणना की और यह जोड़ते हैं कि नागरिकों की सुरक्षा और उन्हें मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए और भी कुछ किया जाना चाहिए।

यूरोपीय संघ की चिंता: मानवाधिकारों की रक्षा की मांग

यूरोपीय संघ ने गाजा में ‘गहरी मानवाधिकार संकट’ की चिंता जताई है। यूई के उच्च प्रतिष्ठान वाले विदेशी मामले और सुरक्षा नीति जोसेप बोरेल ने होस्टिलिटीज के तत्काल रोकने और मानवीय मार्गों की स्थापना की मांग की है। उन्होंने कहा, “यूई हमास के द्वारा अस्पतालों और नागरिकों को मानव कवच के रूप में इस्तेमाल करने की निंदा करता है। नागरिकों को युद्ध क्षेत्र छोड़ने की अनुमति दी जानी चाहिए। ये संघर्ष अस्पतालों और नागरिकों और चिकित्सकों पर भारी पड़ रहे हैं।”

ALSO READ:-Jharkhand News:-झारखंड में शिक्षकों का प्रदर्शन,किया झामुमो कार्यालय का घेराव

इस्राइल की कड़ी कार्रवाई: विदेशी प्रसार को बंद करने की अनुमति

इसराइल के सुरक्षा मंत्रिमंडल ने निर्णय किया है कि विदेश समाचार प्रसारकों को देश की राष्ट्रीय सुरक्षा को हानि पहुंचा रहे हैं तो उन्हें बंद किया जा सकता है। इस निर्णय का आलोचना के बाद हुआ था, जब इसराइल के संचार मंत्री श्लोमो करही ने कटर-मुकर्रम आधारित अल जाजीरा और लेबनान के आल मायादीन नेटवर्क को बंद करने की मांग की थी।

संघर्ष का यात्री: बाइडेन और कतरी इमीर की चर्चा

यूएस राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कतरी इमीर तमीम बिन हमद अल-थानी के साथ ‘तत्काल जारी प्रयासों’ के बारे में बातचीत की।रविवार को राफाह पारित होकर गाजा से कुल 826 विदेशी नागरिकों ने छोड़ा, जो एक दिन में एक एनक्लेव से निर्गमन करने वालों में सबसे अधिक था।

हमास का षड्यंत्र: बड़ी प्राधिकृति के लिए योजना

ज्यादा तत्काल प्रवेश करने की योजना बना रहे हमास के शेरनियों के मृतकों से मिली नई साक्षात्कार सामग्री से साबित हुआ है कि 7 अक्टूबर को इस्राइल के प्रति एक बड़े प्रतिशत के हमले की योजना बनाई गई थी, जिसका उद्देश्य इस्राइल को एक व्यापक प्रतिक्रिया में बढ़ने के लिए मजबूर करना था।

हेज़बोल्लाह के नेता की बयान: लेबनान में नाराजगी

हेज़बोल्लाह नेता हसन नसरअल्लाह का पूर्व भाषण बहुत से लेबनान में रहने वाले पैलेस्टिनियनों के लिए कमजोर साबित हुआ, जिन्हें लोग चाहते थे कि इस्राइल के खिलाफ एक पूर्ण युद्ध शुरू करेगा।

फ्रांस में विरोध प्रदर्शन: न्याय-द्रोह और इस्राइल-हमास संघर्ष

इस्राइल-हमास संघर्ष और न्याय-द्रोह के खिलाफ फ्रांस में रविवार को 1.8 लाख लोगों ने शांतिपूर्ण मार्च किया।दुनिया भर के लोग पलिस्तीन में मासूमो पर इस्रीएल द्वार बम गिराने को लेकर नाराज़ है मिली जानकारी के मुताबिक अभी तक 10000 से ज़्यादा लोग इस युद्ध में मारे जा चुके है जिसमे बच्चो की संख्या ज़्यादा है इसमें औरतो बूढ़े सभी है।

संघर्ष जारी: गाजा के सबसे बड़े अस्पताल के बाहर

इस्राइल की सेना और हमास के बीच संघर्ष गाजा के सबसे बड़े अस्पताल के बाहर जारी है, जहां इंक्यूबेटर विराम पड़े हैं, बिजली नहीं है और महत्वपूर्ण सामग्री समाप्त हो रही है।डॉक्टर बिना बेहोश किये ऑपरेशन करने की खबरे भी आई ,दवाई ख़तम इमरजेंसी वार्ड मे ऑक्सीजन सप्लाई नहीं हो पा रही है ग़ज़ा के ज़्यादातर हॉस्पिटल्स का यही हाल है ।

5 अजीब प्रश्न: अंत में जवाब पाएं

  1. क्या भारत का संकल्प सही है जो इस्राइल के खिलाफ है?
  2. कैसे यूएस राष्ट्रपति जो बाइडेन ने हमास की ओर से किए गए बच्चों के अगवा करने के खिलाफ कठोर निन्दा की है?
  3. क्या हमास के हमले इस्राइल के बाहर फैले थे?
  4. क्या फ्रांस में होने वाले मार्च से इस्राइल-हमास संघर्ष को कोई प्रभाव पड़ेगा?
  5. गाजा के नवाजवानों की मौत पर इस्राइल के प्रति आलोचना में क्या हैं?

1 thought on “Israel-Hamas war :-800 विदेशी नागरिकों ने गाजा छोड़ी, विश्व समुदाय के मगरमच्छ के आंशु”

Leave a Reply