Jharkhand Politics:पूर्व IAS समेत राज्य के कई सेवानिवृत्त अधिकारी BJPमें शामिल

Jharkhand Politics:पूर्व IAS समेत राज्य के कई सेवानिवृत्त अधिकारी BJP में शामिल

1. भूमिका: BJP की मजबूती का सबूत

झारखंड के पूर्व IAS अधिकारी विजय कुमार सिंह और राज्य के कई अन्य सेवानिवृत्त अधिकारी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने का ऐलान किया। इससे भाजपा की ताकत में वृद्धि हो रही है।झारखंड के भाजपा अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने सोमवार को नए सदस्यों का हार्दिक स्वागत किया, जिनमें पूर्व IAS विजय कुमार सिंह भी शामिल हैं।

2. BJP में शामिल होने का कारण: एक देशभक्त की दृष्टि

विजय कुमार सिंह ने अपने शामिल होने का कारण बताते हुए कहा, “मैंने सेवानिवृत्ति के बाद भी देश की सेवा करने का निर्णय लिया है। भाजपा में शामिल होने का मुझे एक सकारात्मक दिशा मिली है।”मरांडी ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में गांव, गरीब, किसान, मजदूर, महिलाएं, युवा, आदिवासी, दलित और पिछड़े सभी बिना भेदभाव के विकास कर रहे हैं।”

उन्होंने इसे आगे बढ़ाते हुए कहा, “गांव के गरीब लोग विकास की मुख्यधारा में शामिल हो रहे हैं। डिजिटल क्रांति से देश में व्यापक बदलाव आए हैं।”मरांडी ने नए सदस्यों को बधाई दी और उन्हें अनुभवी लोगों के शामिल होने का समर्थन दिया। उन्होंने कहा, “इससे पार्टी को लाभ होगा और लोगों का जुड़ाव बढ़ेगा।”मरांडी ने यह भी कहा कि नए सदस्यों के साथ मित्रता बढ़ रही है और उनकी जिम्मेदारियां भी बढ़ गई हैं।

 

ALSO READ:Nithari killings: बलात्कार, नरभक्षण और हत्या के आरोपी मोनिंदर पंढेर और सुरेंद्र कोली दोष मुक्त।

 

3. समापन: 

इस समय के महत्वपूर्ण पलों में, मरांडी ने समापन करते हुए कहा, “डिजिटल क्रांति से हमारा देश बदल रहा है, और भाजपा इस बदलाव में सक्रिय रूप से शामिल हो रही है। नए युग की शुरुआत हो रही है।”वहीं, पार्टी ने दावा किया कि पूर्व आईएएस के अलावा पार्टी में शामिल होने वालों में सेवानिवृत्त राज्य अग्निशमन अधिकारी सुधीर कुमार वर्मा, पूर्व पुलिस उपाधीक्षक ललन ठाकुर, सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश जीके दुबे के अलावा झामुमो और आजसू पार्टी के कई कार्यकर्ता शामिल हैं।

FAQ

1 क्या इस रुझान का कोई विचार है?

हां, इस रुझान का विचार है, क्योंकि यह राजनीतिक स्थिति में महत्वपूर्ण बदलाव ला सकता है।

2 क्या BJP में सेवानिवृत्त अधिकारियों का शामिल होना महत्वपूर्ण है?

हाँ, इससे BJP को विभिन्न क्षेत्रों में अधिक विशेषज्ञता मिलेगी और सामाजिक समर्थन में भी सुधार होगा।

3 कैसे इससे गरीबों को विकास की मुख्यधारा में शामिल होने का लाभ होगा?

इससे गरीबों को समर्थन मिलेगा और उनका समृद्धि की मुख्यधारा में सहयोग होगा, जिससे उन्हें भी विकास का लाभ होगा।

4 क्या इसमें किसानों और मजदूरों को भी फायदा होगा?

हाँ, इससे किसानों और मजदूरों को भी समर्थन मिलेगा और उनकी स्थिति में सुधार होगा।

5 क्या BJP का इसमें कोई रणनीतिक उद्देश्य है?

BJP ने यह स्पष्ट कर दिया है कि उनका उद्देश्य समृद्धि की मुख्यधारा में समर्थन और विकास है, बिना किसी भेदभाव के।

Leave a Reply