JSSC CGL:-जेएसएससी सीजीएल 2023 प्रश्न पत्र लीक होने के कारण सामान्य ज्ञान का पेपर रद्द!

JSSC CGL:-जेएसएससी सीजीएल 2023 प्रश्न पत्र लीक होने के कारण सामान्य ज्ञान का पेपर रद्द!

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (JSSC) की सामान्य स्नातक स्तरीय (CGL) परीक्षा को 28 जनवरी, 2024 को एक बड़ा झटका लगा, जब प्रश्न पत्र लीक होने के कारण सामान्य ज्ञान का पेपर रद्द कर दिया गया। इस घटना ने उम्मीदवारों के बीच चिंता बढ़ा दी है, जिससे मामले की गहन जांच की मांग उठने लगी है।

जेएसएससी सीजीएल 2023 परीक्षा की पृष्ठभूमि

JSSC CGL 2023 परीक्षा अपनी शुरुआत से ही देरी के कारण प्रभावित हुई है। उम्मीदवार, जो परीक्षा के लिए लगन से तैयारी कर रहे थे, उन्हें अनिश्चितता का सामना करना पड़ा क्योंकि तारीखें कई बार आगे बढ़ा दी गईं। देरी के इस इतिहास ने उम्मीदवारों के बीच प्रत्याशा और चिंता का माहौल पैदा कर दिया।

28 जनवरी, 2024 को निर्धारित सामान्य ज्ञान का पेपर पेपर लीक की खबर सामने आते ही उथल-पुथल का दिन बन गया। जेएसएससी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए परीक्षा रद्द कर दी और उम्मीदवारों को आश्वासन दिया कि नई तारीख तुरंत घोषित की जाएगी। इस घटना ने उन उम्मीदवारों की निराशा को और बढ़ा दिया जो पहले ही परीक्षा प्रक्रिया में देरी का सामना कर चुके थे।

यह भी पढ़े:-Arrest:-मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर गिरफ्तारी की तलवार, झामुमो का प्लान बी गठबंधन विधायकों के साथ बैठक

पेपर लीक के बाद इसकी गहन जांच की मांग तेज हो गई है. पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने पारदर्शिता और न्याय की जरूरत पर जोर देते हुए मामले की सीबीआई जांच की मांग की. यह मांग परीक्षा प्रणाली की अखंडता के बारे में उम्मीदवारों और व्यापक जनता की चिंताओं को दर्शाती है।

परीक्षा संरचना और विषय

जेएसएससी सीजीएल 2023 परीक्षा के महत्व को समझने के लिए इसकी संरचना को समझना महत्वपूर्ण है। परीक्षा में तीन पेपर शामिल हैं – भाषा, क्षेत्रीय और जनजातीय भाषा और सामान्य ज्ञान। प्रत्येक पेपर उम्मीदवारों के ज्ञान और कौशल के विभिन्न पहलुओं का आकलन करता है।

JGGLCCE 2023 कुल 2025 रिक्तियों के साथ विभिन्न पदों के लिए दरवाजे खोलता है। उम्मीदवारों का लक्ष्य जेएसए, योजना सहायक और ब्लॉक आपूर्ति अधिकारी जैसी भूमिकाएं हासिल करना है। इन पदों की प्रतिस्पर्धी प्रकृति परीक्षा को लेकर तनाव और प्रत्याशा को बढ़ा देती है।

पेपर लीक होने से न केवल परीक्षा की विश्वसनीयता खतरे में पड़ती है, बल्कि अभ्यर्थियों पर भी इसके गंभीर परिणाम होते हैं। यह परीक्षा प्रक्रिया के दौरान सुरक्षा उपायों की प्रभावशीलता पर सवाल उठाता है। जेएसएससी की जिम्मेदारी है कि वह इन चिंताओं को दूर करे और उम्मीदवारों को चयन प्रक्रिया की निष्पक्षता के बारे में आश्वस्त करे।

नई परीक्षा तिथि की घोषणा

चूंकि उम्मीदवार सामान्य ज्ञान पेपर के लिए नई परीक्षा तिथि की घोषणा का इंतजार कर रहे हैं, इसलिए जेएसएससी से समय पर संचार महत्वपूर्ण हो जाता है। उम्मीदवारों को सूचित रखने और प्रक्रिया में शामिल रखने से उनकी अपेक्षाओं को प्रबंधित करने और पारदर्शिता बनाए रखने में मदद मिलती है।

बाबूलाल मरांडी का स्टैंड:-पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी का सीबीआई जांच की मांग स्थिति की गंभीरता को रेखांकित करती है. निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करने के उनके प्रयास सराहनीय हैं और परीक्षा प्रणाली की अखंडता बनाए रखने के महत्व को दर्शाते हैं।

निष्कर्ष

जेएसएससी सीजीएल पेपर लीक ने उम्मीदवारों के बीच अनिश्चितता और चिंता का माहौल पैदा कर दिया है। परीक्षा की विश्वसनीयता दांव पर है, और सिस्टम में विश्वास बहाल करने के लिए जेएसएससी द्वारा समय पर, पारदर्शी कार्रवाई महत्वपूर्ण है। चूँकि अभ्यर्थी नई परीक्षा तिथि का इंतजार कर रहे हैं, इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना से उत्पन्न चुनौतियों पर काबू पाने में दृढ़ता और दृढ़ संकल्प उनके सहयोगी होंगे।

1 thought on “JSSC CGL:-जेएसएससी सीजीएल 2023 प्रश्न पत्र लीक होने के कारण सामान्य ज्ञान का पेपर रद्द!”

Leave a Reply