Uttarakhand News:-उत्तराखंड के हलद्वानी में हिंसक झड़प दो लोग मारे गए और 250 लोग घायल

Uttarakhand News:-उत्तराखंड के हलद्वानी में हिंसक झड़प दो लोग मारे गए और 250 लोग घायल

उत्तराखंड के हलद्वानी में गुरुवार को एक हिंसक झड़प हुई, जिसमें दो लोग मारे गए और 250 लोग घायल हो गए। एक अवैध मदरसे और पास की मस्जिद के विध्वंस पर अशांति फैल गई, जिसके कारण बढ़ती अशांति को रोकने के लिए कर्फ्यू लगाया गया और देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए।

टकराव की पृष्ठभूमि

यह घटना तब सामने आई जब अदालत के आदेश के बाद पुलिस के साथ सरकारी अधिकारियों की एक टीम ने अवैध संरचनाओं को ध्वस्त करने की कोशिश की। प्रशासन ने मदरसा और मस्जिद को अनाधिकृत घोषित कर दिया था, जिसके बाद उन्हें हटा दिया गया।

हालाँकि, वनभूलपुरा क्षेत्र के निवासियों ने विध्वंस का जोरदार विरोध किया, जिससे कानून प्रवर्तन के साथ भयंकर टकराव हुआ। झड़प के परिणामस्वरूप 50 से अधिक पुलिसकर्मी, प्रशासन के अधिकारी, नगरपालिका कर्मचारी और पत्रकार घायल हो गए।

“अनियंत्रित तत्व” के रूप में वर्णित एक बड़े समूह ने अधिकारियों पर पथराव किया, जिससे पुलिस को आंसू गैस के साथ जवाब देने के लिए मजबूर होना पड़ा। स्थिति तब बिगड़ गई जब थाने के बाहर वाहनों में आग लगा दी गई, जिससे इलाके में क्षति हुई और अराजकता फैल गई।

यह भी पढ़े:-Hemant Soren:-हेमंत सोरेन के आरोपों के बीच राज्यपाल सी पी राधाकृष्णन का बयान

विरोध प्रदर्शन और कानून

महिलाओं सहित गुस्साए निवासी विरोध में सड़कों पर उतर आए, बैरिकेड्स तोड़ दिए और पुलिस के साथ झड़प की। भीड़ ने कानून प्रवर्तन, नगरपालिका कर्मचारियों और पत्रकारों पर पथराव करके हिंसा को बढ़ा दिया, जिसके परिणामस्वरूप चोटें आईं और संपत्ति को नुकसान पहुंचा।

भारी पुलिस और प्रांतीय सशस्त्र कांस्टेबुलरी (पीएसी) की उपस्थिति के साथ विध्वंस को अंजाम दिया गया, जिसका उद्देश्य मदरसे और मस्जिद द्वारा कथित रूप से अतिक्रमण की गई सरकारी भूमि को पुनः प्राप्त करना था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रह्लाद मीना ने पुष्टि की कि विध्वंस अदालत के आदेश का पालन करता है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विध्वंस को अंजाम देने के लिए एक टीम भेजी और “असामाजिक तत्वों” के साथ संघर्ष पर जोर दिया। श्री धामी की ओर से जनता से शांति बनाए रखने की अपील के साथ, व्यवस्था बहाल करने के लिए अतिरिक्त पुलिस और केंद्रीय बलों को तैनात किया जा रहा है।

उच्च न्यायालय की सुनवाई और भविष्य की कार्यवाही

उत्तराखंड हाई कोर्ट में तोड़फोड़ रोकने की मांग वाली एक जनहित याचिका (पीआईएल) पर सुनवाई हुई। अदालत द्वारा राहत नहीं दिए जाने के बावजूद, घटना में कानूनी पृष्ठभूमि जोड़ते हुए मामले की अगली सुनवाई 14 फरवरी को होनी है।

एहतियात के तौर पर पूरे हलद्वानी में कर्फ्यू लगा दिया गया है, जिससे प्रभावित इलाकों में दुकानें और स्कूल बंद कर दिए गए हैं। स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से “अराजक तत्वों” से सख्ती से निपटने का आग्रह किया है।

घायल व्यक्तियों, जिनमें से कई को सिर और चेहरे पर चोट लगी है, का अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है, जो हिंसक झड़पों में मानव क्षति को रेखांकित करता है।

निष्कर्ष

हलद्वानी की घटना विध्वंस और सार्वजनिक प्रतिरोध जैसे मुद्दों से जुड़ी जटिलताओं की याद दिलाती है। चूँकि कानूनी कार्यवाही जारी है, और शहर इसके परिणामों से जूझ रहा है, अधिकारियों के लिए मूल कारणों को संबोधित करना और सामान्य स्थिति बहाल करने की दिशा में काम करना महत्वपूर्ण है।

1 thought on “Uttarakhand News:-उत्तराखंड के हलद्वानी में हिंसक झड़प दो लोग मारे गए और 250 लोग घायल”

Leave a Reply